वसुंधरा करेगी पूनियां की छुट्टी, भाजपा में होगा बड़ा बदलाव !

0

जयपुर के सिविल लाइन के बंगला नं. 13, आजकल बीजेपी की सियासत का केंद्र बन गया है .क्योंकि इस बंगले में रहती हैं पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे . जैसे ही कांग्रेस की अंदर की फूट खत्म होकर, बाहरी तौर पर सरकार स्थिर हुई है , वसुंधरा राजे राजस्थान की राजनीति में तेजी से सक्रीय हो गई हैं और इसको भांपते हुए बीजेपी ने विधायक, कार्यकर्ता और पदाधिकारी उनसे मिलने उनके आवास पर पहुंच रहे हैं . पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे दिनभर मुलाकातों में व्यस्त रहती हैं . राजे से आवास पर भाजपा के नव नियुक्त प्रदेश उपाध्यक्ष अजयपाल सिंह मुलाकात कर चुके हैं . पूर्व मंत्री राजपाल सिंह शेखवात, यूनुस खान, पूर्व विधानसभा अध्यक्ष राव राजेन्द सिंह भी मुलाकात कर चुके हैं. जोधपुर के पूर्व जिलाध्यक्ष जगत नारायण जोशी, झुंझुनूं के पूर्व जिलाध्यक्ष राजवीर सिंह और पूर्व विधायक लक्ष्मीनारायण बैरवा ने भी राजे से मुलाकात की . इसके अलावा भरतपुर सांसद रंजीता कोली ने भी राजे से मुलाकात की .अब सियासी हलकों में चर्चाएं तेज हैं कि वसुंधरा राजे प्रदेश बीजेपी में सक्रिय हो चुकी हैं और अब वो कोई ढील नहीं देना चाहती . इस दौरान चर्चाएं ये भी हैं कि वर्तमान सियासी उथल-पुथल से बीजेपी आलाकमान प्रदेश बीजेपी से खुश नहीं है और वसुंधरा राजे को प्रदेश बीजेपी की कमान दी जा सकती है .यानि चर्चाएं हैं कि वसुंधरा राजे को बीजेपी प्रदेशाध्यक्ष बनाया जा सकता है . आपकों बता दें कि वसुंधरा राजे ने राजस्थान की राजनीति में शुरुआत बतौर प्रदेशाध्यक्ष ही की थी और उनके प्रदेशाध्यक्ष रहते हुए बीजेपी ने जीत भी हासिल की थी . हालांकि मुख्यमंत्री बनने के बाद वो कभी दोबारा प्रदेशाध्यक्ष नहीं बनीं . लेकिन क्या इतिहास खुद को दोहराने की तैयारी कर रहा है ? वर्तमान हालात में कुछ भी हो सकता है .फिर भी लगता है कि पूनियां को अभी और वक्त दिया जाएगा .

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here