राम मंदिर और CAA का बदला लेना चाहता था आतंकी !

0

दिल्ली पुलिस की विशेष प्रकोष्ठ द्वारा आईएसआईएस के आतंकी की गिरफ्तारी के बाद राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र तथा उत्तर प्रदेश में हाई अलर्ट घोषित किया गया है। नोएडा में करीब 200 प्रवेश बिंदुओं पर संदिग्ध वाहनों की सघन जांच की जा रही है। पुलिस उपायुक्त (प्रथम) राजेश एस ने बताया कि दिल्ली पुलिस की विशेष प्रकोष्ठ ने एक मुठभेड़ के बाद आईएसआईएस के आतंकी मोहम्मद युसूफ को गिरफ्तार किया है। युसूफ उत्तर प्रदेश के बलरामपुर का रहने वाला है। प्रारंभिक जांच में पता चला है कि उसने राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र के कई इलाकों की रेकी की थी। उसके कुछ साथी राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र में छिपे हो सकते हैं। उसकी गिरफ्तारी के बाद यहां रेड अलर्ट घोषित कर दिया गया है।

संदिग्ध आतंकी की गिरफ्तारी के बाद उत्तर प्रदेश में भी अलर्ट घोषित कर दिया गया है। राज्य के आतंकवाद विरोधी दस्ते (एटीएस) की एक-एक टीम दिल्ली तथा बलरामपुर रवाना हो गयी है। उत्तर प्रदेश के पुलिस महानिदेशक हितेश चंद्र अवस्थी ने सभी पुलिस अधिकारियों, खास तौर पर क्षेत्र में तैनात अफसरों को सतर्क रहने और जरूरी एहतियात बरतने की हिदायत दी है। राज्य सरकार के एक प्रवक्ता ने बताया कि दिल्ली में गिरफ़्तार उत्तर प्रदेश के बलरामपुर निवासी आतंकवादी ने पूछताछ में पुलिस को बताया है कि उसकी अयोध्या में राम मंदिर शिलान्यास के एक महीने के भीतर आतंकी हमला करने की योजना थी। आतंकी ने यह भी बताया है कि संशोधित नागरिकता कानून के खिलाफ प्रदेश के विभिन्न जिलों में पिछले साल के अंत में हुई हिंसा में उपद्रवियों से वसूली, संपत्तियों की कुर्की के नए क़ानून और राज्य में पुलिस के साथ मुठभेड़ में अल्पसंख्यक समुदाय के 47 अपराधियों के मारे जाने का बदला लेने की भी तैयारी थी। दिल्ली पुलिस के विशेष प्रकोष्ठ से संपर्क करने के बाद उत्तर प्रदेश का आतंकवाद रोधी दस्ता दिल्ली रवाना हो गया है। इसके अलावा दस्ते की एक टीम बलरामपुर भी गयी है। गिरफ्तार आतंकी बलरामपुर का निवासी बताया जा रहा है। दिल्ली पुलिस ने मध्य दिल्ली के रिज रोड इलाके से आईएसआईएस के एक कथित आतंकी को गिरफ्तार कर उसके पास से आईईडी विस्फोटक बरामद किये हैं। यह गिरफ्तारी शुक्रवार रात को मुठभेड़ के बाद हुई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here