पायलट को लग सकता है झटका, 4 विधायक है गहलोत खेमे के सम्पर्क में ?

0

प्रदेश की सरकार जैसलमेर में हैं ।होटल गोरबंध में मंत्री रुके हुए हैं तो वहीं सूर्यगढ़ में विधायकों को रोका गया है। विधायकों का आज तनोट एवं सम धोरों का घूमने का कार्यक्रम भी बनाया गया है ।

ऐसे में पूर्व सांसद और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता बद्रीराम जाखड़ ने सम इलाकों का जायजा भी लिया। हालांकि बद्रीराम जाखड़ ने इस बारे में किसी भी प्रकार की जिम्मेदारी सौपें जाने से इनकार किया हैं ।

जाखड़ ने बताया कि पायलट खेमे के 4 विधायकों के लौट आने की पूरी संभावना हैं ।

सत्ता के संग्राम के बीच सरकार जैसलमेर में हैं । जैसलमेर में जिस तरीके से मंत्री और विधायक डेरा डाले हुए हैं। भले ही इसे लोग बाडेबंदी कहे लेकिन मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने साफ कर दिया हैं कि सरकार पूरी तरह से सुरक्षित हैं ।राज्यपाल ने विधानसभा सत्र 14 अगस्त से प्रारंभ करने की अनुमति दी हैं । अब 14 अगस्त की सुबह क्या होगा और शाम में क्या होगा ये तो वक्त बतायेगा ।

ऐसे में बद्रीराम जाखड़ का कहना हैं कि हमारा कोई विधायक खरीद -फरोख्त पर विश्वास नहीं रखता हैं। आज गहलोत सरकार के पक्ष में 102 – 103 विधायक हैं । साथ ही मीडिया से मुखातिब होते हुए जाखड़ ने कहा कि गहलोत खेमे से जाना तो कोई नहीं चाहता अपितु पायलट खेमे से विधायक जरूर आयेंगे । जाखड़ ने कहा कि 4 विधायक उनके संपर्क में हैं जो गहलोत खेमे में आने को तैयार हैं और ऐसा विश्वास दिलाया कि बहुमत साबित करने वाले दिन ये संख्या 110 से ऊपर होगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here