मोदी सरकार ने रचा इतिहास, लेकिन इस इतिहास से जनता की जेब पर मार ! श्रीनिवास बीबी ने बोला हमला

0

केन्द्र की मोदी सरकार दूसरे कार्यकाल का 1 साल पूरा कर चुकी है इस दौरान सरकार ने कई कडे फैसले लिये लेकिन इस बीच सरकार के इस कार्यकाल में कुछ ऐसा हुआ है जो इतिहास में पहले कभी नहीं हुआ और मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल में एक इतिहास और रच गया है अब आप सभी समझ गये होगें कि हम किस इतिहास की बात कर रहे हैं

जी हां हम बात कर रहे हैं देश में हर रोज बढ रही पेट्रोल डीजलों की कीमत की देश के इतिहास में पहली बार डीजल की कीमतों ने पेट्रोल की कीमतों को पीछे छोड़ दिया है. देश में लगातार 18वें दिन तेल की कीमतों में बढ़ोतरी हुई है. हालांकि बुधवार 24 जून को पेट्रोल की कीमतों में कोई बदलाव नहीं हुआ, लेकिन डीजल की कीमत 48 पैसे बढ़ी है. इसके साथ ही दिल्ली में डीजल की कीमत पेट्रोल के मुकाबले 12 पैसे ज्यादा हो गई है.

सिर्फ दिल्ली में डीजल हुआ आगे

बुधवार को पेट्रोल की कीमत में कोई बदलाव देखने को नहीं मिला और फिलहाल दिल्ली में इसकी कीमत 79.76 रुपये पर ही बरकरार है. हालांकि डीजल की कीमत में बढ़ोतरी के बाद नया रेट 79.88 रुपये प्रति लीटर हो गया है. ये इतिहास में पहली बार है जब देश में पेट्रोल की कीमत डीजल के मुकाबले कम रह गई.

हालांकि ये स्थिति सिर्फ दिल्ली में है. देश के बाकी हिस्सों में अभी भी पेट्रोल के मुकाबले डीजल का रेट कम है. दिल्ली में बढ़ी कीमत का एक कारण वैट भी है. दिल्ली सरकार ने लॉकडाउन के दौरान डीजल पर वैट की दर को बढ़ा दिया था.

अब विपक्ष के निशाने पर मोदी सरकार है युवा कांग्रेस अध्यक्ष (Youth Congress President )श्रीनिवास बीवी ने बुधवार को देश में पेट्रोल डीजल के दामों में बढ़ोतरी को लेकर बयान दिया है। श्रीनिवास बीवी अपने ट्विटर एकाउंट से ट्वीट करते हुए लिखा कि इतिहास में पहली बार डीज़ल, पेट्रोल से महंगा हुआ।

दिल्ली में डीजल 79.92 रुपये प्रति लीटर। जबकि पेट्रोल 79.80 रुपये प्रति लीटर हुआ। नेहरू जी जिम्मेदार ?

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here