सरकार और राज्यपाल आमने-सामने, राज्यपाल ने 2 बिन्दुओं पर मांगा स्पष्टीकरण

0

जयपुर. सियासी घमासान के बीच विधानसभा-सत्र बुलाने को लेकर राजभवन की ओर से लौटाई गई फाइल के साथ ही गवर्नर कलराज मिश्रा ने गहलोत सरकार से दो बिंदुओं पर स्पष्टीकरण मांगा है. सूत्रों के मानें तो राज्यपाल कलराज मिश्र ने पूछा है कि क्या आप ”विश्वास प्रस्ताव” लाना चाहते हैं ? मिश्र ने कहा कि क्योंकि प्रस्ताव में आपने इसका ज़िक्र नहीं किया जबकि आप पब्लिक और मीडिया में कह रहे हैं कि आप ”विश्वास प्रस्ताव” लाएंगे.

21 दिन के नोटिस के लिए भी पूछा
सूत्रों के अनुसार इसके साथ ही राज्यपाल ने इस बात पर भी स्पष्टीकरण मांगा है कि कोरोना की वजह से इतने कम समय में सभी विधायकों को विधानसभा सत्र के लिए बुलाना मुश्किल होगा. क्या आप विधानसभा-सत्र बुलाने को लेकर 21 दिन का नोटिस देने पर विचार कर सकते हैं ? अब इस पर गहलोत सरकार को राज्यपाल को जवाब देना है. उल्लेखनीय है कि राज्यपाल ने राज्य सरकार की सत्र आहूत करने संबंधी फाइल हाल ही में लौटा दी है. राजभवन ने संसदीय कार्य विभाग को वापस भेजी फाइल में सरकार से कुछ जानकारियां चाही हैं

राजभवन और सरकार के बीच तनाव कायम
राजभवन और सरकार के बीच चल रहे इस घटनाक्रम से साफ है कि राज्यपाल फिलहाल विधानसभा-सत्र बुलाने के लिए सहमत नहीं हैं. वहीं राज्य सरकार विधानसभा-सत्र बुलाने के लिए बार-बार मांग कर रही है. अपनी इस मांग को लेकर सत्ता पक्ष के विधायक सीएम अशोक गहलोत में नेतृत्व में राज्यपाल से मुलाकात भी कर चुके हैं. लेकिन बात अभी तक बनी नहीं है. विधानसभा-सत्र बुलाने को लेकर राजभवन और सरकार के बीच गतिरोध बना हुआ है. इस पूरे घटनाक्रम को लेकर राजभवन भी पूरी तरह से अलर्ट मोड पर है. वहीं सरकार भी अपनी आगे की रणनीति बनाने में जुटी हुई है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here