बचकर रहें चीन कर सकता है भारत पर साइबर अटैक, सरकारी एजेंसी ने किया अलर्ट !

0

नई दिल्ली : भारत और चीन के बीच सीमा पर जारी गतिरोध के बीच चीन की एक और कायराना भरी करतूत सामने आयी हैं। इस समय चीन का प्लान बड़ा साइबर अटैक हो सकता है। चीनी हैकर्स भारत में फ्री COVID-19 टेस्ट के नाम से ई-मेल भेजकर इस साइबर अटैक को अंजाम दे सकते है। खुफिया एजेंसी ने इस संभावित साइबर अटैक के बारे में आगाह किया है।


खुफिया एजेंसीज के मुताबिक, भारतीय यूजर्स को ncov2019.gov.in के नाम से ई-मेल आ सकता है, जिसमें फ्री COVID-19 टेस्टिंग के आड़ में साइबर अटैक किया जा सकता है। खुफिया एजेंसी ने यूजर्स को आगाह किया है कि इस ई-मेल आईडी से आए मेल को न तो ओपन करें और न ही अटैचमेंट डाउनलोड करें।

नॉर्थ कोरियन हैकर ग्रुप के साथ मिलकर दे सकते हैं बड़े साइबर अटैक को अंजाम

सिक्युरिटी फर्म्स की रिपोर्ट्स के मुताबिक, चीनी के साथ-साथ नॉर्थ कोरियन हैकर ग्रुप्स भी इसमें शामिल हैं जो किसी कैंपेन की मदद लेकर इस बड़े साइबर अटैक को अंजाम दे सकते हैं। सिंगापुर स्तिथ साइबर सिक्युरिटी फर्म Cyfirma ने बताया है कि इन हैकर्स के पास जापान में 11 लाख निजी ई-मेल आईडी, भारत में 20 लाख ई-ईमेल आईडी और यूके में 1 लाख 80 हजार यूजर्स के ई-मेल आईडी हैं, जिन्हें टारगेट किया जा सकता है।

आपको बता दें कि पिछले दिनों ऑस्ट्रेलिया पर भी इस तरह का साइबर अटैक किया गया था। रिपोर्ट्स के मुताबिक, भारत में करीब 20 लाख से ज्यादा ई-मेल आईडी इसके निशाने पर हैं। यह साइबर अटैक यूजर्स के पर्सनल या प्रोफेशनल ई-मेल आईडी पर किया जा सकता है। खुफिया एजेंसी इसके लिए तीन से चार वेबसाइट्स पर नजर भी रख रही है। चीनी हैकर्स भारतीय यूजर्स को टारगेट करने के लिए इस साइबर अटैक की तैयारी में हैं और बड़े साइबर अटैक को अंजाम दे सकते हैं।


इस तरह के बड़े साइबर अटैक से बचने के लिए यूजर्स को अपने किसी परिचित या अपरिचित ई-मेल आईडी से आए किसी भी ई-मेल के अटैचमेंट को ओपन करने से बचें। साथ ही, अगर आपको किसी भी तरह के स्कीम या ऑफर्स से जुड़ी ई-मेल आती है तो उसे न ओपन करें। यही नहीं, यूजर्स स्पैम फोल्डर में आए किसी भी ई-मेल को ओपन न करें। साइबर सिक्युरिटी फर्म्स का मानना है कि ज्यादातर यूजर्स फ्री स्कीम्स और ऑफर्स की लालच में इन ई-मेल को ओपन करते हैं और साइबर अटैक को फेस करते हैं

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here