एक्शन में सीएम योगी, प्रियंका पर लिया बडा फैसला, सचिन पायलट ने की यूपी सरकार की निंदा !

0

लखनऊ: प्रवासियों की मदद के लिए कांग्रेस द्वारा योगी सरकार 1000 बसों की पेशकस पर मामला गर्माता जा रहा है। इन सबके बीच प्रियंका गांधी के निजी सचिव संदीप सिंह और यूपी कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष अजय कुमार लल्लू के खिलाफ धोखाधड़ी का मामला दर्ज हुआ है।

बसों की सूची में गड़बड़ी का आरोप

संदीप सिंह के खिलाफ FIRदर्ज की

आपको बता दें कि मामला यूपी सरकार को भेजी गई बसों की लिस्ट का है। जिसमें बड़ी धोखाधड़ी सामने आई है। दरअसल प्रवासियों की मदद के लिए प्रियंका की ओर से 1000 बसों को चलाने की अनुमति CM ने दे दी थी। उन्होंने लिस्ट में उन 1000 बसों की डिटेल मांगी वहीं कांग्रेस की ओर से ऑटो, एंबुलेंस, बाइक के नंबर मिले थे। इनमें से कुछ बसों के नंबर की पुष्टि ही नहीं हो पाई तो कुछ बसों के नंबर चोरी के वाहन होने की आशंका दिखी। हजरतगंज पुलिस ने इस विषय पर कांग्रेस महासचिव के निजी सचिव पर धोखाधड़ी के मामले में FIR दर्ज कर ली है। इसके लिए मु0अ0सं0 145/20, धारा 420/467/468 भ0द0वि0 है।

प्रियंका गांधी ने 16 मई को ट्वीट कर कहा था कि हजारों श्रमिक, प्रवासी भाई-बहन बिना खाए भूखे-प्यासे पैदल दुनिया भर की मुसीबतों को उठाते हुए अपने घरों की ओर चल रहे हैं । यूपी के हर बॉर्डर पर बहुत मजदूर मौजूद हैं। ऐसे में प्रिंयका ने प्रवासी श्रमिकों के लिए 1000 बसें भेजने के लिए प्रदेश सरकार से अनुमति मांगी थी।

पहले योगी सरकार ने इस मांग को ठुकरा दिया था, लेकिन बाद में स्वीकार कर लिया। इसके बाद उत्तर प्रदेश सरकार के प्रशासन ने प्रियंका के कार्यालय से 1000 बसों और चालकों के विवरण की मांग की थी

पूरे मामले पर कांग्रेस महासचिव ने ट्वीट करते हुए कहा कि उत्तर प्रदेश सरकार ने हद कर दी। जब राजनीतिक परहेजों को परे करते हुए त्रस्त और असहाय प्रवासी भाई-बहनों को मदद करने का मौका मिला तो दुनिया भर की बाधाएं सामने रख दी।

आगरा में भी मामला दर्ज

वहीं लखनऊ के बाद आगरा में भी अजय कुमार लल्लू और विवेक बंसल पर फतेहपुर सीकरी थाने में मुकदमा दर्ज किया गया है। धारा 188,269 और महामारी एक्ट में मुकदमा दर्ज किया गया है।

इस पर राजस्थान प्रदेशाध्यक्ष व उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट ने ट्वीट करते हुए लिखा कि “प्रवासी मजदूरों को उनके घर तक पहुंचाने के प्रयासों में लगे यूपी कांग्रेस अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू जी और कांग्रेस के राष्ट्रीय सचिव विवेक बंसल जी की गिरफ्तारी निंदनीय है। इसके बजाय यूपी सरकार बसों को अनुमति दें, ताकि बेसहारा श्रमिक अपने घर पहुँच सकें।”

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here